सफलता की चाबी Key of success

 सफलता की चाबी Key of success

 सफलता की चाबी Key of success
 सफलता की चाबी Key of success


Key of success सफलता की चाबी

1.performance 


The best motivational thing for success
नमस्कार दोस्तों आप सभी का स्वागत है ।
आज मैं आपको बताता हूं कि success की चाबी क्या है।

success की चाबी है
प्रदर्शन यानी कि performance
अगर आपने कहीं अच्छा perform किया तो आपको ताली मिलेगी लेकिन 
उसके बाद आप कैसा react करते हो
मुद्दे की बात तो सिर्फ यही है ।
अगर तालियों की गड़गड़ाहट के चक्कर मे आपका ध्यान भंग हो गया तो 
आपको खुद को पता है कि
आपका प्रदर्शन कैसा रहेगा इससे आपकी success  पर क्या फर्क पड़ सकता है
इसलिए आगे
 इससे विचलित ना हो 
और
अगर आप एक स्टूडेंट हो तो
जितना भी आपने अच्छा प्रदर्शन किया हो हमेशा उससे अच्छा करने का प्रयास करे
 क्योंकि आप जानते होंगे जो लोग आपसे  बेहतर की उम्मीद रखते है
 वो बार बार आपको प्रोत्साहित नही करेंगे
एक बार अच्छे से करेंगे,दूसरी बार कम अच्छे से,तीसरी बार बहुत कम,
 लेकिन हो सकता है चौथी बार करे ही ना

क्योंकि अगर आप चाहते हो कि आपकी performance पर फिर से 
तालियां बजे तो आपको पहले से भी अच्छा करना होगा
अगर आपसे कोई ये कहे कि इस कंपनी में मुझे 15000 rs मिलते है तो आप क्या कहोगे?
अगर आप इस सिद्धांत को समझते हो तो बोलोगे कि
इसी कंपनी में किसी की 8 hr के 50000 भी मिलते होंगे और 1 lekh भी मिलते होंगे
हमे उतना ही मिलता है जिसके हम काबिल होते है 

अगर हम उससे ज्यादा पाना चाहते है तो हमे अच्छा perform करना होगा
और अगर हमारी परफॉर्मेंस
वापस वही आयी तो भी लोग तालिया नही बजाएंगे
जितना परफॉर्म पहले किया था उससे भी अधिक करना होगा
 चाहे वो 1 प्रतिशत ही क्यों ना हो
मैं आप को एक बात बताऊ
एल्बर्ट आइंस्टीन दुनिया के महान वैज्ञानिक थे
उन्होंने compound intrest को दुनिया का आठवां अजुबा बोल दिया
आप सोच रहे होंगे कि ऐसा कैसे ? 

मैं आपको बताता हूं ।
दोस्तों वे बहुत चतुर थे। इतनी आसानी से इतनी बड़ी बात नही बोल सकते 
जरूर इसके पीछे कोई लॉजिक लगाया होगा उन्होंने,
तो लॉजिक ये था कि अगर आप खुद को दिन  में
.1  प्रतिशत
भी improve करते है तो साल के अंत मे आपकी क्या स्थिति होगी लेकिन
 ये करने पर पता चलता है 

और अगर आप .1 प्रतिशत भी आलस करते जाएंगे रोज
तो आप देखिए आप कहाँ पहुंचते है ।
यही ताकत है compound intrest  की,
इसलिए अपनी परफॉर्मेंस को बेहतर बनाये ।

यही success की चाबी है ।

जाते जाते
एक डायलोग लेते जाओ

"कल का रिकॉर्ड आज तोड़ दूंगा"

अगर इसी भावना और जुनून के साथ आप आगे बढ़े
तो आपको स्वतः ही तालिया मिलेगी
हर इंसान अपने आप मे विशिष्ट है ।
जो आप सोच सकते है वो आप कर सकते है ।
और आप वो सोच सकते है जो
आपने अभी तक नही सोचा,

आप भी success हो सकते है
मैं ऐसी उम्मीद कर रहा हूं, की मेरा ये लेख आपको अच्छा लगा होगा
आपके कोई भी सुझाव या कोई भी सवाल हो तो कमेंट कर
आपका बहुमूल्य समय देने के लिए दिल से आप सभी का
शुक्रिया

2 .reward aur contributation


यानी की फल और समर्पण

आज मैं आपको जिंदगी की थोड़ी सच्चाई से वाकिब करवाने वाला हूं
और मुझे आप भर पुर भरोसा है,कि आप इसे जरूर अपने जीवन में apply करेंगे
जितना आप मेहनत करेंगे उतना ही आपको reward मिलता जाएगा
इसमे कोई शक नही है, क्योकि मेहनत का फल तो आपको मिलना ही है ।
for the example अगर सोनू निगम अच्छा गाना गाता है, 
तो उसका गाना हिट होगा और जितने अच्छे अच्छे गाने वो गाते जाएगा
 उतना ही उसको रिवॉर्ड मिलता जाएगा ।

विराट कोहली अगर ज्यादा से ज्यादा रन बनाता है तो उसको भी रिवॉर्ड मिलता जाएगा
बड़ी बड़ी कंपनीज ads के लिए उसको hire करेंगी
यानि कि रिवॉर्ड, contribution का by-product है ।
और अगर मान लो
ये लोग कंट्रीब्यूट करना बन्द कर देते है,
तो लोग कैसा...
इनको कोसते है क्योंकि लोग आपसे और भी ज्यादा contribution की उम्मीद करते है।
अगर धोनी किसी मैच में स्लो खेलता है तो लोग क्या बोलते है
बुड्डा हो गया है ये......

चलो आपको एक और example देता हूं,
युवराज सिंह को एक बार आईपीएल में 16 करोड़ में खरीद गया क्यो????
क्योंकि उसकी परफॉरमेंस अच्छी थी उस टाइम,
लेकिन अगले ही साल वो 1 करोड़ में बिका
आखिर ऐसा क्यों हुआ आपको पता होगा घूम फिर कर बात यही आती है
 की अगर आप contribute करते रहोगे तो reward तो आप को 
automatically मिलते रहेंगे आपको लेने की जरूरत ही नही है।
बस आप contribute करते  है।
अपने आप
आपको नतीजे मिलते जाएंगे...

लेकिन अगर आप रिवॉर्ड के चक्कर में भ्रमित हो गए तो आपका ध्यान 
contribution से हट जाएगा और आपकी उन्नति का ग्राफ नीचे की तरफ आने लगेगा
और आपकी success  आपसे छीन सकती है
इसका भी exmple देता हूं
विनोद कांबली का नाम सुना होगा आपने इंडियन cricket का सबसे अच्छा खिलाड़ी था,
सचिन को दोहरा शतक मारने में कितना टाइम लग गया था।
वही विनो काम्बली ने आते ही दोहरा शतक लगा दिया बस फिर क्या था,
वो रिवॉर्ड के चक्कर में पड़ गया और अपना contribution करना भूल गया
और आज आप देखते ही होंगे सचिन Tendulkar is the god of cricket
तो सिर बात सिर्फ इतनी है अगर आपका ध्यान इनमे लगा तो 
बाकी की तरफ से हट जाएगा और आप तरक्की नही कर पाएंगे तथा आप success  नहीं हो पाएंगे



आज की तारीख़ में अगर विराट कोहली  अच्छे रन नही बनाता है तो

 लोग कहने लग जाएंगे कि
लड़की के चक्कर मे career खराब कर लिया
ओर आपको क्या लगता है
इनको इतनी बड़ी बड़ी ब्रांड contact क्यों करती है?
क्या इनकी फिटनेस अच्छी है,इसलिए
या फिर ये दिल्ली से है इसलिए या फिर ये सुंदर है इसलिए
नही sir

सीधा सा जवाब है !

क्योंकि ये खेल में जी जान लगाकर अपना contribution देते है 
इसलिए इनको reward मिलता जाता है ।

लगभग लगभग जितने भी उदाहरण मुझे पता है
वो मेने आपको बता दिए
और आपके साथ मेने अपनी सोच को साझा किया है ।
क्यूंकि ज्ञान बांटने से बढ़ता है,
और बढ़ता ही जाता है ।

some success stories in hindi

मजबूत इच्छाशक्ति success story in hindi
sandeep maheshwari success story in hindi

अब इन successful people की motivation stories का सार समझ लेते है
सार यही है दोस्तो की अगर हम भी
लालच या लोभ के चक्कर मे पड़ गए तो
शायद अपने field में तो तरक्की नही कर पाएंगे
या आपको success नहीं मिल पाएगी
अगर आपको ये लेख अच्छा लगा हो तो जिस तरह मैने यह आपके साथ साझा किया है
ठीक उसी तरह आप भी अपने दोस्तो के साथ इसे share कीजिये
आपका कीमती समय देने के लिए दिल से शुक्रिया

best inspirational story in hindi language





सफलता की चाबी Key of success  सफलता की चाबी Key of success Reviewed by Admin on March 07, 2020 Rating: 5

No comments:

Plz do not publish spam comment

Blog Archive

Powered by Blogger.